समर्थक

शनिवार, 24 नवंबर 2012

"तुम बिन और न दूजा" (कार्टूनिस्ट-मयंक)

तुम बिन और न दूजा...!

1 टिप्पणी:

आपकी टिप्पणियों से ऊर्जा मिलती है!
परन्तु कभी-कभी टिप्पणियाँ स्पैम में चली जाती हैं।
जिन्हें यथासम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।